बलिया में प्रेमी जोड़े ने कुछ यूं लिए सात फेरे ; जाने पूरा मामला रोचक


मनियर, बलिया। मांग तेरी मैं सजा दूं आज इन सितारों से, मैं तेरा राजा तू मेरी रानी तुझसे बनेगी मेरी कहानी... कुछ इन्हीं लफ्जों के साथ प्रेमी जोड़ा ने बेरूरबारी चौकी के पास हनुमान मंदिर पर बजरंगबली को साक्षी मानकर सात फेरे लिया। 


इन दोनों को एक करने में लड़की पक्ष के तरफ से मनियर ब्लाक के बंसवरिया गांव के प्रधान प्रतिनिधि दीवान यादव एवं बांसडीह कोतवाली थाना क्षेत्र के पिंडहरा गांव के प्रधान प्रतिनिधि राकेश तिवारी की भूमिका सराहनीय रही। 

बंशवरिया गांव की प्रियंका

बताते चलें कि बांसडीह कोतवाली थाना क्षेत्र के पिंडहरा निवासी सहदेव कुमार राजभर पुत्र भीखू राजभर का अक्सर अपने मौसी के घर खेजुरी थाना क्षेत्र के बंसवरिया गांव में आना जाना था। बंसवरिया गांव की प्रियंका पुत्री ओम प्रकाश राजभर के साथ उसकी आंखें चार हुई।

परिवार के लोग राजी नही थे


 प्यार परवाना चढ़ा। अक्सर दोनों लुकाछिपी एक दूसरे से मिलते जुलते थे। वे दोनों एक दूसरे से बेइंतहा मुहब्बत करने लगे।  उनके प्रेम की चर्चा हरेक की जुबान पर तैरने लगी। यह बात दोनों के परिजनों को भी मालूम चल गया। परिजन दोनों के प्रेम में बाधा बन रहे थे तथा शादी के लिए तैयार नहीं थे। यहां तक की मामला पुलिस के पास भी पहुंचा।

दोनों परिवार के लोग राजी हुए

मौके पर थाने के सिपाही भी आए, लेकिन दोनों गांव के संभ्रांत व्यक्तियों ने इसमें पहल की और स्वजातीय मामला होने के नाते उनके परिजनों को समझाया बुझाया। इस पर दोनों पक्ष शादी के लिए राजी हो गए। दोनों जन्म जन्म के लिए परिणय सूत्र में बंध गए। कहते हैं कि आंखों से शुरू होकर यह रिश्ता कभी कभी जिंदगी में घर कर जाता है। 

दोनों को मिला सच्चा प्यार


सच्चा प्यार कभी मरता या फीका नहीं पड़ता, बल्कि वह वक्त के साथ और मजबूत और गहरा हो जाता है। दोनों के जिंदगी में भी ऐसा ही हुआ। इस मौके पर दोनों पक्षों से अंजनी यादव,मुन्नी लाल, भाव नाथ राजभर, उषा देवी सहित आदि लोग रहे।

Post a Comment

1 Comments